बदरीनाथ और केदारनाथ यात्रा पर आने के लिए आज से ऑनलाइन पंजीकरण को खोल दिया गया है।

बदरीनाथ और केदारनाथ यात्रा पर आने के लिए आज से ऑनलाइन पंजीकरण को खोल दिया गया है।
 

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में मंगलवार को सचिवालय स्थित वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली सभागार में चारधाम यात्रा की तैयारियों के संबंध में बैठक शुरू हो गई है। पिछले साल चारधाम यात्रा में रिकॉर्ड 46 लाख से अधिक तीर्थयात्री पहुंचे थे। इस संख्या को देखते हुए इस बार भी देश-विदेश से तीर्थयात्रियों के आने की उम्मीद है। पर्यटकों विभाग की ओर से पिछली यात्रा के अनुभव के आधार पर केदारनाथ धाम के लिए प्रतिदिन 15 हजार, बदरीनाथ के लिए 18 हजार, गंगोत्री के लिए 9000, यमुनोत्री के लिए 6000 संख्या तय करने का प्रस्ताव बनाया गया है।

इसके अलावा चारधाम यात्रा मार्गों पर स्वास्थ्य सुविधा, केदारनाथ धाम में यात्रियों के ठहरने, बदरीनाथ और केदारनाथ धाम में वीआईपी दर्शन के लिए शुल्क तय करने, बसों का प्रबंधन, घोड़ा खच्चरों का स्वास्थ्य परीक्षण, पैदल मार्गों पर गरम पानी की व्यवस्था, शेड, बिजली व पेयजल की आपूर्ति, सड़कों की मरम्मत समेत कई व्यवस्थाओं पर निर्णय लिया जाएगा। वहीं बदरीनाथ और केदारनाथ यात्रा पर आने के लिए आज से ऑनलाइन पंजीकरण को खोल दिया गया है।

बैठक में पर्यटन और धर्मस्व मंत्री सतपाल महाराज, वित्त मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल, परिवहन मंत्री चंदन राम दास और मुख्य सचिव एसएस संधू,बदरी केदार समिति के अध्यक्ष अजेन्द्र अजेय समेत संबंधित विभागीय सचिव और अधिकारी मौजूद हैं।

From Around the web