देश के 25 राज्यों के अधिकारियों ने इंदौर की स्मार्ट मीटर योजना की बारीकियों को समझा और इसे अपने राज्य में लागू करने की मंशा जताई।

देश के 25 राज्यों के अधिकारियों ने इंदौर की स्मार्ट मीटर योजना की बारीकियों को समझा और इसे अपने राज्य में लागू करने की मंशा जताई।
 
देश के 25 राज्यों के अधिकारियों ने इंदौर की स्मार्ट मीटर योजना की बारीकियों को समझा और इसे अपने राज्य में लागू करने की मंशा जताई।

केंद्रीय विद्युत मंत्रालय, पॉवर फायनेंस कार्पोरेशन द्वारा नई दिल्ली में स्मार्ट मीटर, स्कॉडा और आरडीएसएस के तहत राष्ट्रीय कार्यशाला की गई। इसमें देश के 25 राज्यों के अधिकारियों ने इंदौर की स्मार्ट मीटर योजना की बारीकियों को समझा और इसे अपने राज्य में लागू करने की मंशा जताई।

दिल्ली में हुई राष्ट्रीय स्तर की कार्यशाला में मप्रपक्षेविविकं इंदौर के स्मार्ट मीटर परियोजना के निदेशक श्री रवि मिश्रा शामिल हुए। उन्होंने लर्निंग, स्मार्ट मीटर योजना की कार्य पद्धति, स्मार्ट मीटर के लाभ और चुनौतियों संबंधी जानकारी दी। श्री मिश्रा ने बताया कि इंदौर, उज्जैन, महू, देवास, रतलाम, खरगोन में स्मार्ट मीटरीकरण का कार्य उच्च मापदंडों के अनुसार किया गया है। इससे कंपनी एवं उपभोक्ता हित में आशातीत परिणाम भी आए हैं। साथ ही उपभोक्ता संतुष्टि बढ़ी है और शिकायतों में उल्लेखनीय कमी आई है।

म.प्र. पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर के निर्देशन में स्मार्ट मीटर परियोजना का कुशलतापूर्वक प्रभावी संचालन किया जा रहा है। विभिन्न बिजली कंपनियों एवं राज्य सरकारों को भी इस संबंध में जानकारी देकर स्मार्ट मीटरीकरण को बढ़ावा भी दिया जा रहा है।

From Around the web